गुजरात में ”भारत माता की जय” बोलने वाले इंजीनियर को दी गई नोटिस

bharat mata ki jay

Gujju Post

अहमदाबाद : गुजरात के सार्वजनिक उपक्रम गुजरात खनिज विकास निगम (GMDC) के साथ काम करने वाली दक्षिण कोरिया की एक कंपनी ने देश की अस्मिता को चोट पहुचा कर विवाद पैदा कर दिया है

साउथ कोरिया की इस कंपनी के प्रबंधन में ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने के लिए एक भारतीय कर्मचारी को नोटिस जारी कर दिया।

गुजरात सरकार ने दक्षिण कोरिया सरकार की कंपनी KEPCO प्लांट सर्विस ऐंड इंजिनियरिंग कंपनी लिमिटेड’ से MOU कर जीएमडीसी के संचालन का कोंट्राक्ट दिया था जो अकरीमोटा थर्मल पावर स्टेशन का परिचालन एवं रखरखाव कर रहा है जो गुजरात के कच्छ जिले के नानी छेर गांव में स्थित है।

KEPCO प्लांट सर्विस एंड इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड ने हाल ही में एक जूनियर इंजिनियर को नोटिस जारी किया था।
इस नोटिस में कंपनी ने उसे एक ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने के लिए फटकार लगाईं है।

दरअसल कंपनी दो महीने पहले आयोजित अपनी एक विभागीय बैठक में अपने सुरक्षात्मक उपायों की समीक्षा कर रही थी। कर्मचारी सुरक्षा संबंधी नारे लगा रहे थे। इसी दौरान दिलीप श्रीमाली नाम के एक कर्मचारी ने भारत माता की जय का नारा भी लगा दिया। कोरियाई प्रबंधन अधिकारी किम को ये नागवार हुया और उस कर्मचारी को नोटिस जारी कर दिया।
कर्मचारीयो ने प्रबंधन अधिकारी को नारे को समजाने का प्रयास किया लेकिन प्रबंधन ने 20 जुलाई को उन्हें नोटिस जारी कर कहदिया कि कंपनी का मंच ऐसे नारे लगाने के लिए नहीं है।

कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने अब कहा है कि मामला GMCD प्रबंधन तक पहुंचा जिसने सभी संबद्ध कंपनियों को एक परिपत्र जारी किया। इस परिपत्र में कहा गया कि नारा राष्ट्रीय गौरव की बात है और कोई भी भारतीय इसे कहीं भी लगाने के लिए मुक्त है।

FDI से आने वाली कंपनिया चाहे इतिहास की ईस्टइंडिया कंपनी हो या आजकी साऊथ कोरियन कंपनी सभी ने हमेशा उनकी हुकूमत का अनुभव कराया है और देश की अस्मिता को कुचला है.

 

पूर्ण पोस्ट पढ़ने के लिए Next Button क्लिक करें