इनसे खुद नहीं पढ़ा गया ये नेता बन गए कम से कम हमें तो पढने दो – NEET स्टूडेंट

neet praivet

दस बारह मोनिस्टर रोज बैठते है रोज नए फैसले लेते है. प्राइवेट कोलेजो की लुंट बरकरार रखने के लिए अध्यादेस तक लाने का फेसला लेके कई विद्यार्थियों के लाइफ से खिलवाड़ कर रही है आज की सरकार.

सालो से प्राइवेट मेडिकल कोलेजो की लुंट चल रही थी उसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने बहोत अहम् आम लोगो के हित का फेसला आया था उसे बदलने का पाप अध्यादेस से किया गया.

NEET मेडिकल की पढ़ाई वाले विद्यार्थीयो का गुस्सा सुनिए